वजन बढ़ाना, वजन कैसे बढ़ाएँ- vajan (weight gain) badhane ke tarike in hindi

वजन बढ़ाना, वजन कैसे बढ़ाएँ- vajan badhane ke tarike

ज्यादा या कम वजन होना दोनों ही स्थितियाँ स्वास्थ्य के लिए अच्छी नहीं हैं। आपका वजन आपकी ऊंचाई के अनुपात में होना चाहिए। यदि आप कम वजन के हैं और वजन बढ़ाना या मांसपेशियों का निर्माण करना चाहते हैं तो यह लेख आपके लिए ही  है। यहाँ हम आपके स्वस्थ शारीरिक वजन को बढ़ाने और अच्छी मांसपेशियों का निर्माण करने के लिए कुछ प्रभावी आयुर्वेदिक उपाय बता रहे हैं ।

सबसे पहले अपने बीएमआई (बॉडी मास इंडेक्स) को  जानें कि क्या आप वास्तव में कम वजन वाले हैं। बीएमआई = किलोग्राम में आपके शरीर का वजन / मीटर में आपकी ऊंचाई।

बीएमआई की एक स्वस्थ सीमा 18.5 से 24.9 है, 18.5 से कम का मतलब है कि आप कम वजन के हैं, और 25 से अधिक का मतलब है अधिक वजन। इसका मतलब है कि अगर आपका बीएमआई 18.5 से कम है, तो आप कम वजन के हैं।

अगर आप दुबले-पतले लग रहे हैं और वजन बढ़ाना चाहते हैं अपने शरीर को एक अच्छा आकार और अच्छी मांसपेशियों का बनाना चाहते हैं तो इसके लिए साइड इफेक्ट्स वाली दवाओं को ना खाएं या खाली कैलोरी ना खाएं। इसके अलावा बहुत अधिक वसायुक्त भोजन ना लें, इससे आपकी पाचन शक्ति कम हो जाएगी या आप आलसी और वसायुक्त हो जाएंगे जो अच्छा नहीं है। एक हफ्ते या एक महीने में एक साथ बहुत सारा वजन बढ़ाने की कोशिश ना करें, क्योंकि कईलोग इसका दावा करते हैं और यह बहुत हानिकारक है। इसके बजाय, हर्बल उपचारों का उपयोग करें जो प्रभावी हैं और जिनके दुष्प्रभाव भी नहीं हैं। स्वस्थ वजन बढ़ाने के लिए ये घरेलू उपचार पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए बहुत प्रभावी हैं।

आम तौर पर, लोग कुछ दवाओं (यहां तक कि स्टेरॉयड) को आजमाते हैं जो बहुत जल्द असर डालते हैं, लेकिन दीर्घकालिक दुष्प्रभाव भी बहुत खराब होते हैं। आपका लक्ष्य सिर्फ वजन बढ़ाना ही नहीं बल्कि अच्छा स्वास्थ्य हासिल करना भी होना चाहिए । अपने स्वास्थ्य की कीमत पर वजन बढ़ाना / बढ़ाना समझदारी नहीं है। सबसे पहले, शरीर के कम वजन के कारणों को जानते हैं ।

कम शारीरिक वजन के कारण:

आहार की कमी / पोषण / कुपोषण

हार्मोनल असंतुलन

अत्यधिक व्यायाम या शारीरिक गतिविधियाँ

अत्यधिक यौन गतिविधियाँ

तनाव या मानसिक चिंता

कमजोर पाचन

किसी दवा के दुष्प्रभाव

कोई स्वास्थ्य समस्या

सबसे पहले, आपको कारण खोजने की जरूरत है और इसे दूर करने या नियंत्रित करने की कोशिश करें। फिर एक अच्छी स्वस्थ दिनचर्या के साथ कुछ हर्बल घरेलू उपाय शुरू करें।

यहाँ बहुत प्रभावी हर्बल घरेलू उपाय दिए गए हैं जो न केवल आपका प्राकृतिक रूप से वजन बढ़ाते हैं बल्कि आपको अच्छा स्वास्थ्य भी प्रदान करते हैं। अच्छे परिणाम के लिए इन घरेलू उपचारों का उपयोग करें।

प्राकृतिक रूप से वजन बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय / आहार-

  • अश्वगंधा (Withania Somnifrea) वजन बढ़ाने और मांसपेशियों के निर्माण के लिए एक बहुत अच्छी जड़ी बूटी है। अश्वगंधा पाउडर 5 ग्राम या अश्वगंधा और शतावरी पाउडर को एक चम्मच गाय के घी के साथ एक गिलास फुल क्रीम दूध के साथ दिन में दो बार लें।

diet how to gain weight

  • एक दिन में चार बार 250 एमएल में विभाजित आधा लीटर से एक लीटर फुल क्रीम दूध पिएं। अगर आपको दूध पसंद नहीं है तो दही लें। सूर्यास्त के बाद दही का सेवन न करें, क्योंकि सूर्यास्त के बाद यह अधिक कफ का कारण बन सकता है।
  • एक दिन में ताजे मौसमी फल आधा से एक किलोग्राम (सेब, केला, और आम खाएं) खाएं, हो सके तो सुबह के नाश्ते में फल खाएं, पर खट्टे फल और दूध एक साथ न लें।
  • मुसली पाउडर और गोक्षुरा पाउडर को समान मात्रा में मिलाएं। इस मिश्रण को तीन से पाँच ग्राम एक गिलास फुल क्रीम दूध के साथ दिन में दो बार लें।
  • शुद्ध शिलाजीत 250 मिलीग्राम एक चम्मच शहद के साथ एक गिलास फुल क्रीम सामान्य रूप से ठन्डे किये हुए दूध के साथ दिन में दो बार लें।
  • भोजन खाने के बाद एक गुड़ का टुकड़ा खाएं।
  • अपने वजन बढ़ाने वाले आहार में पनीर, मक्खन, दूध, दालें, मूंगफली, दही, ताजे फल, सब्जियां, खजूर और सूखे मेवे शामिल करें।
  • भोजन लेने से आधे घंटे पहले आधा चम्मच अदरक का रस और कुछ सेंधा नमक एक गिलास पानी के साथ लें। यह आपकी भूख को उत्तेजित करेगा।
  • सोने जाने से पहले एक चम्मच त्रिफला चूर्ण गुनगुने पानी के साथ लें।
  • ठंडे या कमरे के तापमान के दूध में शहद मिलाएं, सोने जाने से एक घंटे पहले इसे पी लें।
  • हमेशा अपना भोजन समय पर लें। खाना खाने के लिए पर्याप्त समय दें। ठीक से चबाएं और भोजन के दौरान ज्यादा पानी ना पियें । एक संतुलित आहार खाएं।
  • सप्ताह में एक बार भोजन में केवल ताजे मौसमी फल ही खाएं । यह आपके शरीर को डेटोक्सिफाई (detoxify) करेगा और आपकी पाचन शक्ति को तेज करेगा। नतीजतन, आपका शरीर भोजन से अधिक पोषण को अवशोषित कर पाएगा।
  • संपूर्ण अच्छे स्वास्थ्य के लिए पर्याप्त नींद लें। अच्छे हार्मोनल संतुलन और पाचन तंत्र के लिए उचित नींद आवश्यक है। ये सभी स्वस्थ वजन बढ़ाने के लिए आवश्यक हैं।

स्वस्थ वजन के लिए व्यायाम और ध्यान

एक अच्छा शरीर पाने के लिए व्यायाम और ध्यान उतना ही ज़रूरी है जितना कि भोजन। योगासन जैसे सर्वांगासन, भुजंगासन और मत्स्यासन करें। भोजन करने के कम से कम पांच मिनट बाद वज्रासन करें। ये योग पोज़ अच्छे पाचन, अच्छे हार्मोनल संतुलन और स्वस्थ वजन बढ़ाने में मदद करते हैं। वेट लिफ्टिंग और कैलिस्थेनिक्स जैसे व्यायाम भी बहुत सहायक होते हैं।

अगर आप जिम नहीं जाना चाहते हैं तो कम से कम तीस मिनट के लिए घर पर पुश-अप्स और कैलिसथेनिक्स एक्सरसाइज करें। अक्सर लोग ध्यान के महत्व को भूल जाते हैं। जबकि मानसिक स्वास्थ्य और तनाव मुक्त जीवन के लिए ध्यान बहुत जरूरी है। तनाव कमजोर शरीर का सबसे बड़ा कारण है। कम से कम दस मिनट के लिए रोजाना मेडिटेशन जरूर करें।

यह भी पढ़ें: उत्तम स्वास्थ्य के लिए आयुर्वेदिक दिनचर्या 

बॉडी क्लींजिंग / डिटॉक्सिफिकेशन-

विषाक्त पदार्थ / फ्री रेडिकल्स कहीं ना कहीं हमारे रोजमर्रा के भोजन, हवा, पानी और कमजोर आंत में मौजूद होते हैं। आम तौर पर, हम उनके बारे में नहीं जानते हैं। वे खराब स्वास्थ्य का एक बड़ा कारण हैं और इसलिए कमजोर पाचन तंत्र का कारण बनते हैं। अपने बाउल मूवमेंट को नियमित रखें और जंक फूड, तली हुई चीजों और दवाओं के अनावश्यक उपयोग से बचें।

सप्ताह में एक बार अपने बॉडी सिस्टम को आराम दें। इस आराम के दिन में, कठिन शारीरिक श्रम न करें, पर्याप्त स्वच्छ पानी पीएं, और केवल ताजे मौसमी फल लें। यह आपके शरीर को साफ करेगा और आपकी पाचन शक्ति को मजबूत बनाएगा। नतीजतन, आपका शरीर भोजन से अधिक पोषण को अवशोषित करेगा और स्वस्थ वजन बढ़ेगा।

आदर्श शरीर के वजन का अपना एक यथार्थवादी लक्ष्य निर्धारित करें। धैर्य के साथ इन घरेलू उपायों  को आजमाने से आप निश्चित रूप से अच्छे मांसपेशियों के साथ स्वस्थ वजन हासिल कर पाएंगे।

Please follow and like us: